हवाई यात्रा की सुरक्षा पर उठे सवाल, Indigo के विमान का इंजन कांपा, SpiceJet के विमान में आई खराबी

25

Photo:FILE Indigo

देश में हवाई यात्रा की सुरक्षा पर बड़े सवाल उठने लगे हैं। हाल के दिनों में देश की कई एयरलाइंस के जहाजों में खराबी की घटना सामने आई है। गुरुवार का दिन तो काफी हलचल भरा रहा। गुरुवार सुबह जहां दिल्ली से नासिक जा रहे स्पाइसजेट के विमान में गड़बड़ी की खबर आई, वहीं शाम होते होेते इंडिगो के विमान में गड़बड़ी की खबर ने सभी को दहला दिया। 

हवा में कांपने लगा इंडिगो का इंजन 

दिल्ली से बृहस्पतिवार को उदयपुर जा रहा इंडिगो का एक विमान इंजन में कंपन के बाद वापस उतर आ गया। नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि विमान लैंड हो गया है। डीजीसीए इस घटना की जांच करेगा। बृहस्पतिवार को इस तरह की यह दूसरी घटना है जब कोई विमान तकनीकी खराबी के चलते दिल्ली हवाईअड्डे पर लौटा है। अधिकारी ने बताया कि दिल्ली से उदयपुर जा रहा इंडिगो का ए320 नियो विमान उड़ान के दौरान दूसरे इंजन में कंपन के बाद वापस लौट गया। अधिकारी ने अनुसार, विमान सुरक्षित उतर गया है और उसे खड़ा कर दिया गया है।

दिन में दूसरी घटना

 डीजीसीए घटना की विस्तृत जांच करेगा। इससे पहले दिन में, स्पाइसजेट का एक विमान दिल्ली से नासिक के लिए रवाना हुआ था। ‘ऑटोपायलट’ में दिक्कत के कारण यह बीच से ही लौट आया। डीजीसीए इस घटना की भी जांच करेगा।

स्पाइसजेट का विमान रास्ते से लौटा

Spicejet का दिल्ली से महाराष्ट्र के नासिक जा रहा एक विमान बृहस्पतिवार सुबह तकनीकी खामी के बाद बीच रास्ते से लौट आया। विमान ने दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से उड़ान भरी थी। नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया, ‘‘स्पाइसजेट के दिल्ली से नासिक जा रहे विमान में बृहस्पतिवार को रास्ते में ही ऑटोपायलट संबंधी खराबी आई जिस वजह से विमान बीच रास्ते से लौट आया।’’ इससे पहले भी स्पाइसजेट के विमानों में खराबी की घटनाएं सामने आ चुकी हैं और डीजीसीए ने एयरलाइन को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया है। विमानन सुरक्षा नियामक ने 27 जुलाई को आदेश दिया था कि एयरलाइन आठ सप्ताह तक अधिकतम 50 फीसदी उड़ानों का संचालन करेगी।

Latest Business News

Previous articleपूर्व राष्ट्रपति गोटाबाय राजपक्षे शनिवार को थाईलैंड से श्रीलंका पहुंच सकते हैं: रिपोर्ट
Next articleटॉप गियर में ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री, अगस्त में मारुति ने बेचीं 1,65,173 लाख कारें,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here