Real Life Romantic Love Story In Hindi | मेरा सच्चा प्यार - हेलो दोस्तों आज की यह लव स्टोरी आपके लिए बहुत ही खास होने वाली है। मेरा नाम सचिन (बदला हुआ) नाम है। मैं अपनी पढ़ाई खत्म होने के बाद जॉब करने के लिए दिल्ली पहुंच जाता हूं। मेरे दोस्त की सिफारिश के बाद मुझे एक कंपनी में जॉब मिल जाती हैं। कंपनी में जॉब करने के दौरान मेरी मुलाकात संजना (बदला हुआ) नाम की लड़की से होती है।

Real Life Romantic Love Story In Hindi | मेरा सच्चा प्यार -

प्राइवेट कंपनी में जॉब करने के कारण मुझे सैलरी अच्छी खासी नहीं मिलती थी। कमरे का किराया निकालने के लिए मैं ओवरटाइम जॉब करने लग गया था। संजना भी मेरे ही साथ मेरी ही कंपनी में जॉब करती थी। एक दिन हाय हेलो से हम दोनों की मुलाकात शुरू हुई। मेरे पास वाली कुर्सी पर बैठकर वह कंप्यूटर में काम कर रही थी, तभी मैंने उसको हाय बोला। उसके बाद संजना ने भी मुझे हाय कहा।

कंपनी में जॉब करती हो मुझे लगभग 6 माह गुजर गए थे लेकिन अभी मेरे और संजना के बीच सिर्फ दोस्ती ही थी। मैं उसको बहुत पसंद करता था लेकिन कहने से डरता था। एक साथ जॉब करने की वजह से मुझे पता ही नहीं चला कि मैं कब उससे प्यार करने लगा गया परंतु मुझे बिल्कुल भी पता नहीं था कि संजना भी मुझसे प्यार करती है या नहीं। जब वह मुझसे बात करती तो ऐसा लगता था कि मानो वह भी मुझसे प्यार करते हो। Real Life Romantic Love Story

धीरे-धीरे हम दोनों के बीच दोस्ती गहरी हो गई और हमने एक दूसरे के मोबाइल नंबर ले लिए। अब हम दोनों रात के समय एक दूसरे व्हाट्सएप पर चैटिंग करते थे। जब भी संजना का मुझसे बात करने का मन होता है तो वह मुझे कॉल कर देती थी। दोनों कई तरह की बातें करते थे लेकिन एक दूसरे को प्रपोज बिल्कुल भी नहीं किया था।

कुछ ही दिनों बाद संजना का जन्मदिन आने वाला था तो मैंने उसको गिफ्ट देने के लिए कंपनी में ओवरटाइम काम करना शुरू कर दिया। क्योंकि कंपनी की जो सैलरी मुझे मिलती थी उससे मेरे घर का ही खर्चा चलता था। संजना को गिफ्ट देने के लिए मुझे ओवरटाइम करना बहुत जरूरी था क्योंकि मैं उसके जन्मदिन पर उसको तोहफा देकर प्रपोज करना चाहता था। कंपनी की शाम 5:00 बजे छुट्टी होती तो सभी लोग चले जाते थे लेकिन मैं ओवरटाइम करने के लिए वहीं रुक जाता था। Real Life Romantic Love Story

ओवरटाइम काम करने की वजह से मैं देर रात अपने कमरे पर पहुंचता था। जिसकी वजह से मैं काफी थक चुका था क्योंकि समय पर खाना नहीं मिलता था। कंपनी में ओवर टाइम जॉब करने की वजह से मैं उसका कॉल नहीं उठा पाता था और ना ही व्हाट्सएप पर उसके मैसेज का जवाब दे पाता था। जब भी वह मुझे मिलती तो हमेशा एक ही सवाल पूछती - आजकल इतने व्यस्त कहां रहते हो, जो तुम ना तो मेरा कॉल उठाते हो और ना ही मेरे व्हाट्सएप पर किए गए मैसेज का जवाब देते हो। मैंने कहा - किसी काम की वजह से आपसे बात नहीं हो पाती है।

एक दिन ओवरटाइम काम करते समय अचानक मेरी तबीयत खराब हो गई। मुझे कंपनी के सीनियर अधिकारियों द्वारा पास के ही एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया। अस्पताल में भर्ती होने के बाद जब मैं संजना को कंपनी में नहीं देखा तो उसने मुझे कॉल करके पूछा - आज कंपनी में जॉब के लिए नहीं आए हो क्या? मैंने कहा - किसी काम की वजह से नहीं आ पाया हूं? दो-तीन दिन बाद में आऊंगा। थोड़ी देर बात करने के बाद में कॉल डिस्कनेक्ट कर देता हूं। Real Life Romantic Love Story

मेरे बीमार होने की खबर संजना को मेरे साथ ओवरटाइम जॉब करने वाली लड़कों ने दे दी थी। मेरे दोस्तों ने संजना को मेरे प्यार के बारे में भी सब कुछ बता दिया था और यह भी कहा था कि तुम्हारे जन्मदिन पर गिफ्ट देने के लिए ओवर टाइम जॉब करने लग गया था। इसलिए वह मुझसे मिलने के लिए सीधे अस्पताल पहुंच गई। मुझे अस्पताल में भर्ती देखकर वह काफी घबरा गई थी। अस्पताल में मुझे बीमार हालत में देख वह मुझसे बोली - यह सब करने की क्या जरूरत थी।

उसके बाद संजना ने फिर कहा - कभी अपने आपको देखा है, कितने दुबले पतले हो गए हो। मेरे जन्मदिन पर गिफ्ट देने के लिए तुमने ओवर टाइम जॉब करना शुरू कर दिया था लेकिन मुझे बिल्कुल भी नहीं बताया। जब भी मैं तुमसे पूछती तो तुम कोई ना कोई बहाना बना देते थे। संजना को देखने के बाद मुझे ऐसे लग रहा था कि वह मुझसे काफी नाराज हो गई है। मैंने कहा - तुम्हारे जन्मदिन पर गिफ्ट देने के लिए मेरे पास इतने पैसे नहीं थे इसलिए ओवर टाइम जॉब करना पड़ा। Real Life Romantic Love Story

संजना ने कहा - सचिन! मेरे लिए तुम्हारा प्यार ही सबसे बड़ा गिफ्ट है। अगर आगे से तुमने मुझसे बिना पूछे ऐसे कोई भी काम किया ना तो मैं तुमको छोड़ कर चली जाऊंगी। उसकी इस बात को सुनकर मुझे पूरा यकीन हो गया था कि संजना भी मुझसे बहुत प्यार करती है। उसके बाद मैंने अस्पताल में ही संजना को प्रपोज कर दिया और वह खुशी से मेरे गले से लिपट गई। दो-तीन दिन तक अस्पताल में भर्ती रहने के दौरान उसने मेरी देखभाल इस तरह की मानों कोई पत्नी अपने पति से देखभाल करते हो।

कुछ दिनों बाद जब संजना का जन्मदिन आया तो मैं उससे मिलने के लिए उसके पास चला गया। वहां पर मैंने देखा कि उसके कई सारे दोस्त बैठे हुए थे। कुछ लोगों को मैं अच्छी तरह से पहचानता था लेकिन कुछ ऐसे थे जिनको मैं पहली बार देख रहा था। इसलिए मैंने उसमें संजना से प्यार के बारे में बातें करना अच्छा नहीं समझा। संजना ने जब जन्मदिन का केक काटा तो मैंने गिफ्ट उसके हाथों में थमा दिया। संजना ने मेरी ओर देखते हुए गिफ्ट खोला तो उसमें ताजमहल की एक प्यारी सी तस्वीर थी।

मेरे गिफ्ट को देखकर संजना बहुत खुश हुई और मुझे अपने गले से लगा लिया था। जन्मदिन की पार्टी में ही संजना ने कहा - सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार, आज मैं अपने जीवन मिस सबसे बड़ा फैसला लेने जा रही हूं। मैं आप सभी के सामने सचिन को अपने प्यार के रूप में स्वीकार करती हूं। उसकी इस बात को सुनकर सभी लोग खुशी से झूम उठे और तालियां बजाने लगे। मैं दूर एक कोने में खड़ा होकर यह सब कुछ देख रहा था तभी संजना मेरे पास आती है और मुझे हाथ पकड़ कर सामने बनी हुई स्टेज पर ले जाती हैं। Real Life Romantic Love Story

उसके बाद संजना ने मेरे हाथ में अंगूठी पहनाई और मैंने भी उसको अंगूठी पहना कर सगाई कर ली थी। जन्मदिन की पार्टी खत्म हो जाने के बाद सब लोग अपने अपने घर जा चुके थे। मैं भी संजना से मिलकर अपने कमरे पर जाने वाला था लेकिन उसने मुझसे जाने के लिए मना कर दिया। उस रात में संजना के पास ही रुक गया था। उस रात हम दोनों ने बहुत सारी बातें की थी।

बातों के दौरान संजना ने मुझसे कहा - मैं तुम्हारे प्यार के लिए हजारों गिफ्ट कुर्बान कर सकती हूं। अगर उस दिन तुम्हें कुछ हो जाता तो मैं क्या करती, इसका तुम्हारे पास कोई जवाब है। मैंने कहा - माफ कर दो यार, आगे से तुम से भी ना पूछे कभी भी ऐसा नहीं करूंगा। संजना ने कहा - मुझे पैसा और गिफ्ट नहीं चाहिए, मेरे लिए सिर्फ तुम्हारा प्यार ही काफी है। इस तरह बात करते हुए हमें रात के लगभग 2:00 बज चुके थे। मुझे भी नींद आने लगी थी इसलिए मैं उसको गुड नाईट बोल कर दूसरे कमरे में सोने चला गया। Real Life Romantic Love Story

हम दोनों को सगाई की हुए लगभग 6 महीने बीत चुके थे। उसके बाद मैंने और संजना ने एक दूसरे से शादी कर ली। मैं बहुत खुशनसीब इंसान हूं जो मुझे इतना प्यार करने वाली लड़की मिली थी। मैं संजना को जीवन भर खुश रखने के लिए पूरी कोशिश करूंगा। आज हम दोनों उसी कंपनी में जॉब करते हैं। सबसे अच्छी खुशखबर यह है कि कुछ दिनों बाद संजना मां बनने वाली है। अब मुझे और संजना को घर में नए मेहमान के आने का बेसब्री से इंतजार है। दोस्तों आप सभी ईश्वर से प्रार्थना करना कि संजना के जीवन में खुशियां ही छाई रहे।

दोस्तों आपको संजना और मेरी यह Real Life Romantic Love Story पसंद आई हो तो कमेंट करना बिल्कुल भी ना भूले और अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। मैं आपसे यही उम्मीद करता हूं कि आप इस लव स्टोरी को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करेंगे। इस प्रकार की सच्ची प्रेम कहानी पढ़ने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे।

यह भी पढ़ें - प्यार की अनोखी कहानी | Best Romantic Heart Touching Love Story In Hindi 

True Love Stories in Real Life in Hindi | एक नई ज़िन्दगी

Previous Post Next Post