किसी ने बड़े कमाल की बात कही है कि जो इंसान दूसरों की खुशी में अपनी खुशी देखता है वह इंसान दुनिया में कभी दुखी हो ही नहीं सकता।

बहुत परेशान हो तो ये कहानी आपके लिए है Powerful Story in Hindi 2022
बहुत परेशान हो तो ये कहानी आपके लिए है 

Powerful Story in Hindi 2022 

नमस्कार दोस्तों मैं हूं ओमेंद्र गुर्जर आज मैं आपको एक कमाल की छोटी सी कहानी सुनाता हूं एक राजा की जिसने अपने राज्य में घोषणा करवाई कि मुझे इस दुनिया की सबसे शांत तस्वीर चाहिए। जो भी चित्रकार जो भी आर्टिस्ट पेंटर वह तस्वीर बना देगा उसको मुंह मांगा इनाम दूंगा जो चाहिए हीरे जवाहरात सोना चांदी सब मिलेगा लेकिन तस्वीर जो है वह दुनिया के सबसे शांत तस्वीर होनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें:- दो भाईयों के प्यार की अद्भुत कहानी | Inspirational Speech in Hindi

कंपटीशन का अनाउंसमेंट किया गया और एक डेट फिक्स की गई उस दिन सभी पेंटर आर्टिस्ट वहां अपनी अपनी पेंटिंग बनाने के लिए पहुंचे और पेंटिंग बनाना शुरू किया राजा साहब ने देखना शुरू किया आखरी राहुल आते-आते राजा ने 2 तस्वीरों को सेलेक्ट किया जो दोनों पेंटिंग्स थी उनको दरबार में रखवाया गया सब को देखने के लिए। राजा ने कहा आइए और देखिए दोनों पेंटिंग्स को अच्छी तरह से फिर हम अपना फैसला सुनाएंगे।

जो पहली प्रिंटिंग थी जो पहला चित्र था उसमें कमाल की सुंदर निर्मल स्वच्छ पानी की झील थी झील का पानी इतना साफ था कि नीचे से छोड़कर पत्थर जो भी दिख रहे थे और उसमें परछाई थी उसके चारों तरफ सफेद बर्फ के पहाड़ आसमान में रुई के गोले जैसे बादल एकदम सुंदर चित्र पक्षी दौड़ रहे हैं माहौल उनको देखकर कोई भी कह सकता है कि इनको इनाम दे दीजिए इसमें सोचने की कोई बात नहीं है।

दूसरी जो पेंटिंग थी जो दूसरा चित्र था वह डरावना था आसमान में काले बादल हैं बिजली कड़क रही है चमक रही है तूफान आ रहा है जंगल में पहाड़ पर से जो झरना गिरा है वह तेज गति से गिर रहा है झरने के पास में जो पेड़ लगे हुए वह झूल रहे हैं ऐसा लग रहा है सब कुछ तहस-नहस होने वाला है विनाश की तस्वीर लोगों को यह समझ नहीं आ रहा था कि राजा ने यह दूसरी तस्वीर क्यों सेलेक्ट की और लोगों को लग गया था की पहली वाली जो चित्र जो पहली पेंटिंग थी वो जीत जाएगी।

इसे भी पढ़ें:- लता मंगेशकर जी के जीवन से सीखने वाली 4 बड़ी बातें | Motivational Stories of Lata Mangeshkar

चित्रकार को इनाम मिलेगा राजा साहब ने अपना अनाउंसमेंट सुनाया उन्होंने कहा कि दूसरी जो पेंटिंग है जो दूसरा चित्र है यह दुनिया का सबसे शांत चित्र है इससे बढ़िया शांति का प्रतीक आज तक नहीं देखा लोगों का दिमाग घूम गया राजा से बोलने की हिम्मत नहीं लेकिन जो पहला चित्रकार था जिसने पहली पेंटिंग बनाई थी उससे रहा नहीं गया और उसने राजा साहब से कहा माफ कीजिए राजा साहब लेकिन इतना बता दीजिए कि इस पेंटिंग में ऐसा है क्या इस दूसरी वाली में जो आपने इसको सबसे शांत तस्वीर बता दी। 

राजा ने कहा गौर से देखिए आपने ध्यान नहीं दिया झरने के पास में जो पेड़ झूल रहे हैं इनमें से एक पेड़ पर एक छोटा सा घोंसला है जिसमें चिड़िया है वह अपने बच्चों को दाना खिला रही है भोजन करा रही है इतना सारा माहौल डरावना बना हुआ है लेकिन चिड़िया को अपने बच्चों की उनके भोजन की फिक्र है और वह अपने बच्चों को भोजन कराने में मग्न है। 

इसीलिए यह तस्वीर इस दुनिया की सबसे शांत तस्वीरें राजा साहब ने बताना शुरू किया क्या आपको लगता है कि शांति जगह में जो जगह है उसमें शांति है जो सुंदर तस्वीरें है वह शांत तस्वीर है ऐसा नहीं है शांति आपके मन में है। 

इसे भी पढ़ें:- एक सेना के जवान की दिल को छू लेने वाली कहानी ।। Sad Story Indian Army 

छोटी सी कहानी लेकिन बताती है कि हम ऐसे बहुत सारे लोग किसी डेस्टिनेशन पर जाना चाहते हैं घूमने जाना चाहते हैं हमें लगता है वह सुंदर पहाड़ हैं सुंदर पानी है सब कुछ अंदर कितनी शांति होगी। कई बार ऐसा भी होता है कि आप भीड़ भाड़ में होते हैं लेकिन अंदर से शांत होते हैं सब अच्छा लग रहा होता है।

शांति दरअसल इंसान के मन में होती है जिस दिन मन शांत होता है उस दिन सब कुछ अच्छा होता है। तो चाहे जितना आपको ऐसा लगे कि मेरे खिलाफ चीजें जा रही है तब भी मन को शांत रखिए और अपनी मंजिल की तरफ बढ़ते रहिए यही इस कहानी का मकसद और मतलब है।

एक बार फिर से वही बात जो अक्सर आप से कहता हूं ऊपर वाले के आशीर्वाद के साथ अपनी सच्ची मेहनत के साथ और अपनों के प्यार के साथ 

कर दिखाओ कुछ ऐसा कि दुनिया करना चाहे आपके जैसा 


Previous Post Next Post