IND vs PAK Asia Cup 2022: पाकिस्तान की ताकत ही उसकी कमजोर कड़ी, एक वार से पिछली हार का हिसाब चुकता हो जाएगा

19

हाइलाइट्स

एशिया कप में भारत और पाकिस्तान की दुबई में टक्कर होगी
पाकिस्तान की सबसे बड़ी ताकत ही उसकी कमजोरी साबित हो सकती

नई दिल्ली. 10 महीने बाद भारत और पाकिस्तान की क्रिकेट टीम फिर आमने-सामने होंगी. वेन्यू वही है, जहां पिछली बार दोनों टीमों की टक्कर हुई थी. तब पाकिस्तान ने इतिहास बदला था. पहली बार उसने भारत को वर्ल्ड कप में शिकस्त दी थी. हार भी ऐसी कि फैंस तो ठीक, टीम इंडिया भी आज तक उसका दर्द नहीं भूली है. एक दिन पहले भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने यही बात कही थी. लेकिन, अब नई शुरुआत है. दोनों ही टीमें जीत के रथ पर सवार होकर एशिया कप में पहुंचीं है. ऐसे में टक्कर जबरदस्त होने की पूरी उम्मीद है. लेकिन, पाकिस्तान की परेशानी यह है कि उसकी ताकत ही उसकी सबसे बड़ी कमजोरी है. यह बात टीम इंडिया को भी पता है. ऐसे में टीम इंडिया की जीत का रास्ता, पाकिस्तान की ताकत पर तगड़ा प्रहार करने से निकलेगा.

अब आपको बताते हैं कि पाकिस्तान की ताकत क्या है, जो उसकी कमजोरी भी है. दरअसल, पाकिस्तान की सबसे बड़ी ताकत उसकी बल्लेबाजी है. इसमें भी टॉप-3 बल्लेबाजों पर पाकिस्तान की पूरी बल्लेबाजी टिकी है. ऐसे में अगर पाकिस्तान के टॉप-3 बल्लेबाजों का भारत ने जल्दी शिकार कर दिया तो फिर मैच पर शिकंजा कसते देर नहीं लगेगी. अब सिलसिलेवार तरीके से पाकिस्तान की ताकत के बारे में जानते हैं, जो उसकी कमजोरी भी साबित हो सकती है.

पाकिस्तान के टॉप-3 ने 67 फीसदी रन बनाए
पिछले साल हुए टी20 वर्ल्ड कप से पाकिस्तान के टॉप-3 बल्लेबाजों यानी बाबर आजम, मोहम्मद रिजवान और फखर जमां की तिकड़ी ने टी20 में मिलकर पाकिस्तान के 67.5 फीसदी रन बनाए हैं. इस अवधि में इन तीनों बल्लेबाजों ने इंटरनेशनल टी20 में पाकिस्तान के लिए 72 फीसदी गेंद खेली है. यानी ज्यादातर मुकाबलों में यही तीन बल्लेबाज सबसे ज्यादा वक्त तक क्रीज पर रहे हैं और लाजमी है कि पाकिस्तान की हालिया सफलता में भी इन्हीं तीनों का ही हाथ है. ऐसे में अगर भारतीय गेंदबाजों ने इस तिकड़ी को सस्ते में समेट दिया तो फिर बड़ा काम हो जाएगा.

भारत की भी सबसे बड़ी ताकत टॉप ऑर्डर
पाकिस्तान की तरह भारतीय टीम भी अपने टॉप-3 बल्लेबाजों पर निर्भर है. पिछले साल टी20 विश्व कप से टॉप-3 बल्लेबाजों ने टीम इंडिया के 58.4 फीसदी रन बनाए हैं. पाकिस्तान के बाद भारत इस मामले में दूसरे स्थान पर है.

मिडिल ऑर्डर पाकिस्तान की कमजोरी कड़ी
पाकिस्तान का टॉप ऑर्डर बल्लेबाजों ने पिछले टी20 वर्ल्ड कप के बाद से सबसे ज्यादा रन बनाए हैं. वहीं, टीम का मिडिल ऑर्डर इस अवधि में अपनी छाप छोड़ने में नाकाम रहा है. पिछले टी20 विश्व कप के बाद से ही टॉप-थ्री से बाहर केवल 2 बल्लेबाजों ने टी20 में 100 रन बनाए हैं. यानी बाबर आजम, मोहम्मद रिजवान और फखर जमां के आउट होते ही पाकिस्तान की बल्लेबाजी बिखर सकती है और फिर भारत के लिए जीत की राह आसान हो जाएगी.

IND Vs PAK Dream 11 Asia Cup T20: भारत-पाक मुकाबले में ज्यादा अंक दिला सकते हैं रोहित-बाबर, इन 11 खिलाड़ियों पर लगा सकते हैं दांव

राहुल द्रविड़ दुबई पहुंचे, भारत-पाकिस्तान मुकाबले के दौरान ड्रेसिंग रूम में रहेंगे मौजूद

स्ट्राइक रेट में पाकिस्तान का मिडिल ऑर्डर अव्वल
हालांकि, टीम इंडिया को एक बात के लिए होशियार रहना पड़ेगा. पिछले विश्व कप के बाद से ही भले ही पाकिस्तान के मिडिल ऑर्डर ने ज्यादा रन नहीं बनाए हों. लेकिन, स्ट्राइक रेट के मामले में 12 देशों में पाकिस्तान का मिडिल ऑर्डर टॉप पर है. इस अवधि में पाकिस्तान के मिडिल ऑर्डर ने 152.18 के स्ट्राइक रेट से 627 रन बनाए हैं. वहीं, भारत के मिडिल ऑर्डर ने रन तो सबसे ज्यादा 1838 बनाए. लेकिन, स्ट्राइक रेट 142 का रहा. टी20 में स्ट्राइक रेट की अहमियत ज्यादा होती है. ऐसे में भारतीय टीम को पाकिस्तान की इस ताकत पर भी नजर रखनी होगी और मिडिल ओवर में भी कसी हुई गेंदबाजी जोर देना होगा.

Tags: Asia cup, Babar Azam, Fakhar zaman, ICC T20 World Cup 2021, India Vs Pakistan, Mohammad Rizwan, Rohit sharma, Virat Kohli

Previous articleIND vs PAK: किंग कोहली एक साथ रचेंगे दो इतिहास, एबी डिविलियर्स ने पहले ही दे दी बधाई
Next articleIndia vs Pakistan: ऋषभ पंत या दिनेश कार्तिक? जानें चेतेश्वर पुजारा ने किस पर लगाया दांव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here